Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Pashu Paricharak Syllabus in Hindi: पशु परिचारक भर्ती 2024 सिलेबस जारी, यहां से डाउनलोड करें

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के द्वारा पशु परिचारक भर्ती का आयोजन करवाया जा रहा है। जो अभ्यर्थी इस भर्ती में भाग लेने की सोच रहे हैं उन्हें पशु परिचारक भर्ती 2024 सिलेबस की जानकारी होना आवश्यक है। जिससे कि आपकी पशु परिचय परीक्षा की तैयारी अच्छे से हो पाए। हमारे द्वारा आपको इस भर्ती के सिलेबस की संपूर्ण जानकारी इस लेख के माध्यम से उपलब्ध करवाई जा रही है। राजस्थान पशु परिचारक भर्ती 2024 सिलेबस पीडीएफ हिंदी में डाउनलोड करने का डायरेक्ट लिंक आपको नीचे उपलब्ध करवा दिया गया है।

Pashu Paricharak Syllabus in Hindi

पशु परिचारक एक्जाम पेटर्न

राजस्थान पशु परिचारक भर्ती के लिए सर्वप्रथम लिखित परीक्षा का आयोजन करवाया जाएगा। परिचारक भर्ती परीक्षा के पेपर के दो भाग होंगे प्रथम भाग के प्रश्नों का भारांक 70% होगा जबकि द्वितीय भाग के प्रश्नों का भारांक 30% होगा।

इस परीक्षा में कुल 150 अंकों का पेपर आयोजित करवाया जाएगा, जिसमें कुल प्रश्नों की संख्या 150 होगी। इस पेपर को हल करने के लिए अभ्यर्थियों को 3 घंटे का समय दिया जाएगा। राजस्थान पशु परिचय भर्ती परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी रखी गई है प्रत्येक गलत उत्तर देने पर 1/4 भाग की नेगेटिव मार्किंग की जाएगी। अभ्यर्थियों के लिए यह पेपर हिंदी और इंग्लिश और दोनों भाषाओं में उपलब्ध करवाया जाएगा।

पशु परिचारक भर्ती 2024 सिलेबस

पशु परिचारक सिलेबस 2024 के अनुसार इस भर्ती के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन कराया जाएगा इसमें एक पेपर का आयोजन करवाया जाएगा यह पेपर दो भागों में बटा होगा। पूछे जाने वाले प्रश्न जिन विषयों से संबंध रखते हैं उनकी विस्तृत जानकारी आपको नीचे दी जा रही है। इसके साथ ही आपको पशु परिचारक सिलेबस पीएफ डाउनलोड करने का डायरेक्ट लिंक भी हमारे द्वारा नीचे उपलब्ध करवा दिया गया है।

पशु परिचारक सिलेबस भाग- (अ)

इस परीक्षा के प्रथम भाग में पूछे जाने वाले प्रश्न राजस्थान राज्य के विशिष्ट संदर्भ के साथ माध्यमिक स्तर के सामान्य ज्ञान जिसमे दैनिक विज्ञान, गणित, सामाजिक अध्ययन, भूगोल, इतिहास, संस्कृति, कला, समसामयिक विषय आदि के होंगे।

पशु परिचारक सिलेबस भाग- (ब)

पशुपालन से संबंधित निम्न बिन्दुओं का सामान्य ज्ञान जिसमे प्रदेश में पशुओं की प्रमुख देशी नस्लें, कृत्रिम गर्भाधान, बधियाकरण, संकर प्रजनन, दुग्ध दोहन दुग्ध स्रवण काल, स्वच्छ दूध उत्पादन, पशु एवं कुक्कुट प्रबंधन, जैविक अपशिष्टों का निस्तारण, संतुलित पशु आहार.

ऊन कतरन, भार ढोने वाले पशु, वर्मी कम्पोस्ट खाद, पशुओं के चमडे एवं हड्डियों का उपयोग, पशुओं की उम्र ज्ञात करना, पॉलीथीन से पशुओं / पर्यावरण को हानि, पशु बीमा.

चारा फसलें, चारा / चारागाह विकास, स्वस्थ एवं बीमार पशुओं की पहचान, पशुओं में अंतः एवं बाह्य परजीवी रोग, पशुओं में टीकाकरण, पशुधन प्रसार, भेड़ बकरियों का स्वास्थ्य कलेण्डर, ऊन, मांस, दूध व अंडों का देश व राज्य में उत्पादन व स्थान, प्रति व्यक्ति दूध / मांस / अंडों की उपलब्धता, प्रति पशु दूध की उत्पादकता.

पशु क्रय के समय रखी जाने वाली सावधानियाँ, पशु मेलें, पशुगणना, गौशाला प्रबंधन, साफ सफाई का महत्व, गोबर मूत्र का उचित निष्पादन, पशुधन उत्पादों का विपणन, डेयरी विकास गतिविधियों तथा पशुपालन विभाग की प्रमुख योजनायें आदि का समावेश हो, पर वस्तुपूरक प्रकार के प्रश्न।

Pashu Paricharak Syllabus in Hindi pdf Download

राजस्थान पशु परिचारक भर्ती 2024 सिलेबस पीडीएफ हिंदी में डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a comment